Breaking
चुनावों के लिये भाजपा नेताओं के पास कोई मुद्दा नही : संजय अवस्थी         मतदाता पहचान पत्र न होने पर वैकल्पिक दस्तावेज के साथ कर सकते हैं मतदान - उपायुक्त         कांगड़ा जिला में चार स्थान मतगणना के लिए प्रस्तावित - डीसी         कंगना की टिकट घोषित होने से कांग्रेस के सभी नेता परेशान : बिहारी लाल         आपदा के पैसे को लूटने का काम कांग्रेस ने किया : कंगना         नये वोटरों को किया जागरूक         न्याय पत्र में कांग्रेस पार्टी ने ओल्ड पेंशन स्कीम पर चुप्पी साधी : सहजल         राज्यपाल ने प्रदेश की प्रगति में योगदान देने वाले हाई फ्लायर्स को सम्मानित किया         उपायुक्त ने बल्ह विधानसभा के चार पोलिंग बूथों का किया निरीक्षण         पारंपरिक मेलों की तरह लोकतंत्र के पर्व में भी जरूर लें हिस्सा: डीसी         100 कि.मी. के ट्रेल में धावक 30 पंचायतों में देंगे मतदान के महत्व की जानकारी         9 उपचुनावों के लिए बिंदल ने तैनात किए चुनाव प्रभारी से प्रभारी और सहयोगी          हिमाचल को मोदी सरकार ने शिक्षा के क्षेत्र में बनाया आत्मनिर्भर: अनुराग ठाकुर         स्व. बाबूराम की याद में लांच किया कैलेंडर         बसोआ पर्व के मौके पर यूनिवर्सिटी परिसर में किया गया खीर व पिंदड़ी वितरण         मुख्यमंत्री के कारण बिगड़ा सरकार का गणित : बलबीर वर्मा         एसडीएम ने जारी किया स्थानीय भाषा में तैयार मतदाता प्रेेरक साॅन्ग         वोटर कार्ड नहीं है तो वैकल्पिक दस्तावेज के साथ करें मतदान: डीसी         प्रदेश की भावी राजनीति की दिशा व दशा तय करेंगे यह चुनाव परिणाम : प्रतिभा सिंह         हमीरपुर के तीनों न्यायिक परिसरों में 11 मई को लगेंगी लोक अदालतें

“130 करोड़ भारतीयों का यह परिवार मेरा है-मोदी

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने हिमाचल प्रदेश के शिमला में ‘गरीब कल्याण सम्मेलन’ को संबोधित किया। प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व वाली सरकार के आठ वर्ष पूरे होने के उपलक्ष्य में यह अनूठा सार्वजनिक कार्यक्रम देश भर में राज्यों की राजधानियों, जिला मुख्यालयों और कृषि विज्ञान केंद्रों में आयोजित किया जा रहा है। इस सम्मेलन की अवधारणा देश भर में चुने हुए जनप्रतिनिधियों को सरकार द्वारा चलाए जा रहे विभिन्न कल्याणकारी कार्यक्रमों के बारे में प्रतिक्रिया प्राप्त करने के लिए जनता के साथ सीधे बातचीत करना है।

प्रधानमंत्री  नरेन्द्र मोदी ने प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि (पीएम-किसान) योजना के तहत वित्तीय लाभ की 11वीं किस्त भी जारी की। इससे 10 करोड़ से अधिक लाभार्थी किसान परिवारों को करीब 21,000 करोड़ की राशि ट्रांसफर हो सकेगी। इस मौके पर प्रधानमंत्री ने देश भर के (पीएम-किसान) के लाभार्थियों से भी बातचीत की। शिमला में इस अवसर पर हिमाचल प्रदेश के राज्यपाल  राजेन्द्र अर्लेकर, हिमाचल के मुख्यमंत्री  जय राम ठाकुर और केन्द्रीय मंत्री अनुराग सिंह ठाकुर उपस्थित थे।

उन्होंने लद्दाख के लाभार्थी श्री ताशी टुंडुप के साथ बातचीत करते हुए लद्दाख में पर्यटकों के आगमन और सरकारी योजनाओं के साथ उनके अनुभव के बारे में बात की। प्रधानमंत्री ने एक सैन्यकर्मी के रूप में उनकी सेवाओं की प्रशंसा की।  ताशी टुंडुप ने बताया कि उन्हें पीएमएवाई, शौचालय, गैस कनेक्शन और खेती से संबंधित लाभ जैसी योजनाओं का लाभ लेने में कोई समस्या नहीं हुई।

बिहार की ललिता देवी जी पीएमएवाई, उज्जवला, स्वच्छ भारत और जल जीवन मिशन की लाभार्थी हैं। उन्होंने पीएम को बताया कि किस तरह इन योजनाओं ने उनके जीवन को आसान और सम्मानजनक बना दिया। प्रधानमंत्री ने कहा कि एक घर से बच्चों की शिक्षा और शादी जैसी कई चीजें सुचारू रूप से होने लगेंगी।

पश्चिम त्रिपुरा से एक राष्ट्र एक राशन कार्ड, पीएम गरीब कल्याण, और कई अन्य योजनाओं के लाभार्थी  पंकज शनि ने बताया कि उन्हें जेजेएम, ओएनओआरसी, पीएमएवाई और बिजली कनेक्शन जैसी कई योजनाओं का लाभ मिला है। उन्होंने यह भी बताया कि वन नेशन वन राशन कार्ड के कारण उन्हें बिहार से प्रवास के बावजूद कोई समस्या नहीं हो रही है।

कर्नाटक के कलबुर्गी से आयुष्मान भारत की एक लाभार्थी संतोषी ने इस योजना के साथ अपना अनुभव सुनाया। उन्होंने कहा कि हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर और मुफ्त जांच और दवाएं उनके जीवन में कई बदलाव ला रही हैं। प्रधानमंत्री ने संवाद करने के उनके उत्कृष्ट तरीके के लिए उनकी सराहना की और मजाकिया लहजे में कहा कि उन्हें चुनाव लड़ना चाहिए क्योंकि वह बहुत लोकप्रिय हो जाएंगी।

गुजरात के मेहसाणा से प्रधानमंत्री मुद्रा योजना के लाभार्थी  अरविन्द ने प्रधानमंत्री से बात करने के लिए उत्साहित होकर बताया कि उनके मंडप सजावट व्यवसाय से व्यापार का विस्तार हुआ है और वह डिजिटल भुगतान को बढ़ावा दे रहे हैं। प्रधानमंत्री ने उन्हें अपने कर्मचारियों को सरकारी योजना के बारे में शिक्षित करने और नौकरी देने वाला बनने के लिए उनकी सराहना की। प्रधानमंत्री ने उनकी बेटी को खेल आकांक्षाओं के लिए आशीर्वाद भी दिया।

कार्यक्रम स्थल पर हिमाचल प्रदेश के सिरमौर से पहुंची समा देवी जी पीएमएवाई, पीएम किसान सम्मान निधि, आयुष्मान योजना, मुख्यमंत्री गृहिणी सुविधा योजना की लाभार्थी हैं। प्रधानमंत्री ने उनकी स्थिति और खेती में उनकी गतिविधियों पर चर्चा की।

सभा को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री ने इस महत्वपूर्ण अवसर पर हिमाचल में उपस्थित होने पर प्रसन्नता व्यक्त की। उन्होंने किसानों को बधाई और शुभकामनाएं दीं क्योंकि पीएम किसान योजना के माध्यम से 10 करोड़ से अधिक किसानों को उनके बैंक खातों में पैसा मिला है। प्रधानमंत्री ने संतोष व्यक्त किया कि उन्होंने अपनी सरकार के 8 वर्ष पूरे होने के अवसर पर पीएम केयर्स फॉर चिल्ड्रन योजना के तहत लाभ जारी किए। उन्होंने शिमला से देशभर में प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि (पीएम-किसान) योजना के तहत वित्तीय लाभ जारी करने पर प्रसन्नता व्यक्त की। उन्होंने देश के 130 करोड़ नागरिकों की सेवा करने का अवसर देने के लिए लोगों को धन्यवाद दिया।