Breaking
पदमश्री विद्यानंद सरैक होंगे सिरमौर के जिला आईकन         अतिरिक्त व्यय पर्यवेक्षकों के लिए कार्यशाला आयोजित         राष्ट्रीय विज्ञान दिवस पर विजेताओं को कुलपति डाक्टर डी.के.वत्स ने किया पुरस्कृत         विद्यार्थियों ने बनाए चंद्रयान व सौर मंडल के मॉडल         परोल स्कूल में ‘स्वीप’ के तहत आयोजित किया गया जागरुकता कार्यक्रम         बालासुंदरी चैत्र नवरात्र मेला 9 अप्रैल से 23 अप्रैल 2024 तक अयोजित होगा-एल.आर.वर्मा         मतदान फीसद बढ़ाने के लिए योजना पूर्वक करें प्रयास : अपूर्व देवगन         कांगड़ा जिला में मतदाता जारूकता अभियान पर करेंगे विशेष फोक्स: डीसी         मेधा प्रोत्साहन योजना के अभ्यर्थियों की अस्थाई सूची जारी         राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला खल्याणी में जागरूकता शिविर का हुआ आयोजन         कुल्लू में विद्यालय मृदा स्वास्थय कार्यक्रम पर जागरूकता शिविर का आयोजन         हिमतरु प्रकाशन समिति तथा भाषा एवं संस्कृति विभाग के संयुक्त तत्वावधान में आयोजित         निर्वाचन के दृष्टिगत गठित टीमों के लिए प्रशिक्षण कार्यशाला आयोजित         नवोदय विद्यालय में बताया मिट्टी के परीक्षण का महत्व         निर्वाचन प्रक्रिया के सुचारू निर्वहन में नोडल अधिकारियों की अहम भूमिका: डीसी         9 अप्रैल को आयोजित होंगी लोक अदालतें         31 मार्च 2024 तक निर्धारित लक्ष्य पूरा करें सभी विभाग-सुमित खिमटा         जीत से बड़ा मनोबल, इतिहास बदला : बिंदल         प्लांट एवं मशीनरी में 721.78 करोड़ रुपये का निवेश         राज्यपाल ने किया मातृवन्दना पत्रिका के विशेषांक का विमोचन

स्वच्छता में श्रेष्ठ कार्य करने वाली पंचायतें होंगी सम्मानितः नीलम

हिम न्यूज़, ऊना- स्वच्छ भारत मिशन की समीक्षा के संबंध में डीआरडीए सभागार में आज एक बैठक का आयोजन किया गया, जिसकी अध्यक्षता जिला परिषद अध्यक्ष नीलम कुमारी ने की। बैठक में स्वच्छ भारत मिशन से संबंधित विभिन्न घटकों की कार्य प्रगति बारे विस्तृत चर्चा की गई।

इस अवसर पर नीलम कुमारी ने कहा कि ऊना जिला में अब तक 1818 शौचालयों का निर्माण किया गया है, जिन पर 2 करोड़ 18 लाख रुपए खर्च किए गए हैं। इसके अलावा जिला में 2 करोड़ 43 लाख की लागत से 95 सामुदायिक शौचालयों का निर्माण किया गया है। विकास खंड बंगाणा की ग्राम पंचायत मुच्छाली में 48 लाख रुपए की लागत से एक ठोस कचरा प्रबंधन इकाई स्थापित की गई है तथा जिला के प्रत्येक विकास खंड में एक प्लास्टिक कचरा प्रबंधन इकाई स्थापित की जा रही है, जिसके निर्माण पर 80 लाख रुपए खर्च किए जा रहे हैं। बंगाणा विकास खंड की ग्राम पंचायत मुच्छाली में 10 लाख रुपए की लागत से निर्मित प्लास्टिक कचरा प्रबंधन का निर्माण कार्य पूरा किया जा चुका है।

नीलम कुमारी ने विभागीय अधिकारियों को निर्देश दिए कि वह स्वच्छ भारत मिशन के तहत विभिन्न कार्यों को तय समय सीमा में पूरा करें। उन्होंने बताया कि स्वच्छता के क्षेत्र में बेहतर कार्य करने वाली ग्राम पंचायतों को आगामी 15 अगस्त के दिन स्वतंत्रता समारोह के अवसर पर सम्मानित तथा पुरस्कृत किया जाएगा। उन्होंने जानकारी दी कि स्वच्छ भारत मिशन के अंतर्गत और बेहतर कार्य करने के दृष्टिगत निकट भविष्य में विभागीय अधिकारियों तथा ग्राम पंचायतवासियों का देश के ऐसे राज्यों में परिचयात्मक दौरा करवाया जाएगा, जहां पर स्वच्छ भारत मिशन के तहत बेहतरीन कार्य हुए हैं।

बैठक में अतिरिक्त उपायुक्त ऊना डॉ. अमित कुमार शर्मा, डीआरडीए ऊना के परियोजना अधिकारी संजीव ठाकुर, खंड विकास अधिकारी ऊना रमनवीर सिंह, खंड विकास अधिकारी बंगाणा यशपाल सिंह, सीडीपीओ कुलदीप सिंह दयाल, मृदा परीक्षण अधिकारी डॉक्टर दीपिका भाटिया, जिला कल्याण अधिकारी चमन लाल शर्मा सहित अन्य विभागों के अधिकारी व कर्मचारी भी उपस्थित थे।