Breaking
3 लाख से कम आय है तो ले सकते हैं मुफ्त कानूनी मदद         शास्त्री एवं भाषा अध्यापकों की भर्ती के लिए काउंसलिंग 26 व 27 फरवरी को         सिरमौर जिला में 28 और 29 फ़रवरी को  लगेंगी राजस्व लोक अदालतें-सुमित खिमटा         दैनिक आहार में मोटे अनाज को अवश्य शामिल करें         पंचायती राज संस्थाओं में रिक्त पदों के लिये उप-चुनाव 25 फरवरी को         चुनाव प्रक्रिया के दौरान सभी नोडल अधिकारियों की भूमिका अग्रणी और महत्वपूर्ण - अनुपम कश्यप         तीन दिवसीय राज्य स्तरीय छेश्चू मेला संपन्न         तंबोला की 13 लाख में हुई नीलामी         राजभवन में अरूणाचल प्रदेश और मिज़ोरम का स्थापना दिवस आयोजित         बिना बजट के योजनाएं घोषित करने वाले हवा-हवाई सीएम बने सुक्खू : जयराम ठाकुर         मुख्यमंत्री ने सेना के जवान के निधन पर शोक व्यक्त किया         मुख्यमंत्री ने लोक निर्माण विभाग के 15 टिप्परों को रवाना किया         हमने शिमला संसदीय क्षेत्र में पिछले 5 साल में 15000 करोड़ रुपए से अधिक के काम करवाए : कश्यप         2004 से 2014 तक कांग्रेस के 10 साल भ्रष्टाचार : बिंदल         जोगिन्दर नगर के रैंस भलारा की महिलाएं तैयार कर रही हैं विभिन्न तरह का आचार         जिला स्तरीय लोकगीत प्रतियोगिता के लिए पंजीकरण 26 तक         कांगड़ा और चंबा के युवाओं ने लिया राष्ट्रीय युवा संसद में भाग         प्रतिभा सिंह ने नाचन विधानसभा क्षेत्र में किए विभिन्न विकासात्मक कार्यों के शिलान्यास         आईपीएस अधिकारी राकेश सिंह ने संभाला एसपी ऊना का पदभार         कुपोषण की रोकथाम के लिए मिशन मोड में कार्य किया जाएगा - जतिन लाल

महेन्द्र सिंह ठाकुर का धर्मपुर विधानसभा क्षेत्र का दौरा-अधिकांश समस्याओं का मौके पर निपटारा

हिम न्यूज़ धर्मपुर– जल शक्ति , बागवानी, राजस्व व सैनिक कल्याण मंत्री महेंद्र सिंह ठाकुर ने धर्मपुर विधानसभा क्षेत्र में एक करोड़ छः लाख रूपये की लागत से दयोल से तरयाला नाला सड़क का शुभारंभ तथा एक करोड़ चार लाख रुपये की राशि से निर्मित दयोल से लहसनी सड़क पर 40 मीटर लम्बे पुल का विधिवत उदघाटन किया जिसके निर्माण हो जाने से लगभग सात गांवों के बाशिंदों को लाभ मिलेगा । मंत्री ने यहां पर दयोल से संधोल बस सेवा को भी हरी झंडी दिखाकर रवाना किया ।

जलशक्ति मंत्री ने कहा कि साढ़े चार वर्ष के कार्यकाल के दौरान जय राम ठाकुर सरकार ने समूचे प्रदेश में अभूतपूर्व विकास किया है। जनकल्याण को सर्वाेच्च अधिमान देते हुए सरकार ने नेक नियत, नई सोच व मजबूत इरादों के साथ अनेक महत्वकांक्षी योजनाएं व कार्यक्रम आरम्भ किए हैं, जिनका समाज के अंतिम पायदान में बैठे व्यक्ति तक लाभ पहुँच रहा है। उन्होंने कहा कि विकास की दृष्टि से प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के मार्गदर्शन तथा केन्द्र सरकार के सहयोग से हिमाचल प्रदेश ने अपनी अलग पहचान बनाई है तथा प्रदेश विकास के नए शिखर छू रहा है।

महेंद्र सिंह ठाकुर आज धर्मपुर विधानसभा क्षेत्र के कनूही, दयोल, रसाडी, कून, बैंझ खोल, टोरखोला, भडोत, रेड़ कंगोटा, कमलाहू, ब्रैहल, घरवासड़ा,खेड़ी,नरवालका, शेरपुर, डूघा, ओडी-गलू में जन समस्याएं सुनने के अवसर पर उपस्थित लोगों को संबोधित कर रहे थे। इस बीच उन्होंने लोगों की समस्याओं को भी सुना तथा अधिकत्तर का मौके पर ही निपटारा कर शेष समस्याओं बारे संबंधित विभागीय अधिकारियों को निर्देश दिये।

जल शक्ति मंत्री ने कहा कि मुख्य मंत्री जय राम ठाकुर के कुशल नेतृत्व में वैश्विक कोरोना महामारी जैसे कठिन दौर में भी प्रदेश में विकास की गति को रूकने नहीं दिया गया। उन्होंने कहा कि आज धर्मपुर विधानसभा क्षेत्र की प्रत्येक पंचायत ही नहीं बल्कि प्रत्येक गांव में सडक़-पुल, बिजली, पेयजल, स्वास्थय, शिक्षा आदि बुनियादी सुविधा सुनिश्चित हुई है। उन्होंने कहा कि कून में माता मंदिर के अतिरिक्त निर्माण कार्यों हेतु 5.37 लाख स्वीकृत हुआ है।

सरकार का वर्तमान कार्यकाल ज़रूरतमंदों तथा कमज़ोर वर्गों के कल्याण व उत्थान के लिए रहा समर्पित

महेन्द्र सिंह ठाकुर ने कहा कि राज्य सरकार ने जनकल्याण में एक कदम आगे बढ़ते हुए घरेलू बिजली उपभोक्ताओं को 125 यूनिट तक प्रतिमाह निशुल्क बिजली देने की भी घोषणा की है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने यह भी निर्णय लिया है कि प्रदेश के ग्रामीण क्षेत्रों में निरूशुल्क पानी उपलब्ध करवाया जाएगा।

जलशक्ति मंत्री ने कहा कि प्रदेश के निचले क्षेत्रों के किसानों व बागवानों की आर्थिकी को सुदृढ़ बनाने को एचपी शिवा प्रोजेक्ट की शुरूआत की गई है। जिसके माध्यम से प्रदेश के सात जिलों में बागवानी से किसानों की आर्थिकी को सुदृढ़ हो रही है। प्रदेश के निचले क्षेत्रों के लिए यह परियोजना न केवल बागवानी के नए द्वार खोल रही है, बल्कि शिक्षित बेरोजगार युवाओं के लिए घर बैठे स्वरोजगार का भी एक अहम जरिया साबित हो सकता है। उन्होंने कहा कि एचपी शिवा प्रोजेक्ट के माध्यम से धर्मपुर विस क्षेत्र में भी लोगों को बागवानी के क्षेत्र में आगे बढऩे का एक बेहतरीन अवसर प्राप्त हुआ है।

उन्होंने कहा कि धर्मपुर को बेहतर पेयजल सुविधा प्रदान करने के लिए 115 करोड़ रूपये की उठाऊ पेयजल योजना संधोल- अवाहदेवी- बरच्छबाड़ का निर्माण किया जा रहा है जिसका शीघ्र ही शुभारंभ होगा। इस योजना के तहत लाभान्वित पंचायतों के साथ लगते क्षेत्र में जल स्रोतों के संवर्धन और सुधार का कार्य भी किया जाएगा।उ न्होंने कहा कि प्रदेश सरकार जल जीवन मिशन में हर घर को नल से शुद्ध जल पहुंचाने के लिए लगातार काम कर रही है। उन्होंने कहा कि हिमाचल प्रदेश ने भी 93 प्रतिशत घरों को पेयजल उपलब्ध करवाने का लक्ष्य प्राप्त कर लिया है।