Breaking
पदमश्री विद्यानंद सरैक होंगे सिरमौर के जिला आईकन         अतिरिक्त व्यय पर्यवेक्षकों के लिए कार्यशाला आयोजित         राष्ट्रीय विज्ञान दिवस पर विजेताओं को कुलपति डाक्टर डी.के.वत्स ने किया पुरस्कृत         विद्यार्थियों ने बनाए चंद्रयान व सौर मंडल के मॉडल         परोल स्कूल में ‘स्वीप’ के तहत आयोजित किया गया जागरुकता कार्यक्रम         बालासुंदरी चैत्र नवरात्र मेला 9 अप्रैल से 23 अप्रैल 2024 तक अयोजित होगा-एल.आर.वर्मा         मतदान फीसद बढ़ाने के लिए योजना पूर्वक करें प्रयास : अपूर्व देवगन         कांगड़ा जिला में मतदाता जारूकता अभियान पर करेंगे विशेष फोक्स: डीसी         मेधा प्रोत्साहन योजना के अभ्यर्थियों की अस्थाई सूची जारी         राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला खल्याणी में जागरूकता शिविर का हुआ आयोजन         कुल्लू में विद्यालय मृदा स्वास्थय कार्यक्रम पर जागरूकता शिविर का आयोजन         हिमतरु प्रकाशन समिति तथा भाषा एवं संस्कृति विभाग के संयुक्त तत्वावधान में आयोजित         निर्वाचन के दृष्टिगत गठित टीमों के लिए प्रशिक्षण कार्यशाला आयोजित         नवोदय विद्यालय में बताया मिट्टी के परीक्षण का महत्व         निर्वाचन प्रक्रिया के सुचारू निर्वहन में नोडल अधिकारियों की अहम भूमिका: डीसी         9 अप्रैल को आयोजित होंगी लोक अदालतें         31 मार्च 2024 तक निर्धारित लक्ष्य पूरा करें सभी विभाग-सुमित खिमटा         जीत से बड़ा मनोबल, इतिहास बदला : बिंदल         प्लांट एवं मशीनरी में 721.78 करोड़ रुपये का निवेश         राज्यपाल ने किया मातृवन्दना पत्रिका के विशेषांक का विमोचन

उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वाली 12वीं कक्षा की गरीब परिवार की 100 छात्राओं को मिलेगी वित्तीय सहायता

हिम न्यूज़, चंबा,उपायुक्त डीसी राणा ने कहा कि शिक्षण संस्थानों में आयोजित होने वाली विभिन्न गतिविधियों व कार्यक्रमों में बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ अभियान की गतिविधियों को भी शामिल किया जाए। यह निर्देश आज उन्होंने बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना के क्रियान्वयन के लिए गठित जिला स्तरीय कार्यबल की बैठक की समीक्षा करते हुए दिए।

उन्होंने शिक्षा विभाग को निर्देश देते हुए कहा कि जिला स्तर पर बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ अभियान के तहत छात्रों में जागरूकता लाने के उद्देश्य से नृत्य, नाटक, पोस्टर मेकिंग, नारा लेखन प्रतियोगिताएं करवाई जाएं

बैठक में समिति द्वारा किए गए कार्यों की समीक्षा करते हुए उन्होंने ये निर्देश भी दिए कि इस वर्ष आयोजित होने वाले ऐतिहासिक मिंजर मेले में बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ को थीम विषय के रूप में शामिल किया गया है । राणा ने  कहा कि मिंजर मेले के दौरान महानाटी का आयोजन भी किया जाएगा जिसमें महिला मंडल, स्वयं सहायता समूह की महिलाएं, आंगनवाड़ी कार्यकर्ता अपनी सहभागिता सुनिश्चित बनाएंगी।

उन्होंने संबंधित विभागों को निर्देश दिए कि महिलाएं अपनी पारंपरिक वेशभूषा में ही महानाटी में भाग लें ताकि जिला चंबा की पारंपरिक संस्कृति की झलक लोगों को देखने को मिले।

उपायुक्त ने प्रदेश सरकार द्वारा चलाई जा रही वो -दिन योजना के तहत किए जा रहे कार्यों की समीक्षा करते हुए कहा कि जिला के चयनित विकासखंडों में महिला स्वच्छता, एनीमिया और 2 साल तक के बच्चों पर जागरूकता अभियान के लिए स्वास्थ्य, आयुर्वेदिक, शिक्षा, ग्रामीण विभाग और पंचायती राज संस्थाएं आपसी समन्वय स्थापित कर 28 जून, 28 जुलाई, 28 अगस्त और 28 सितंबर को योजना के तहत निर्धारित गतिविधियां आयोजित करें।

इसके लिए उन्होंने विकासखंड स्तर पर संबंधित सीडीपीओ को खंड विकास अधिकारी और खंड चिकित्सा अधिकारी के सहयोग से इस अभियान के तहत की जा रही गतिविधियों में तेजी लाए। उन्होंने कहा कि 8 से 10 पंचायतों का क्लस्टर बनाकर जागरूकता शिविर लगाया जाए ताकि समय रहते अभियान के तहत निर्धारित लक्ष्य को पूर्ण किया जा सके।

इसके अतिरिक्त बैठक में उन्होंने स्वास्थ्य विभाग को कम लिंगानुपात वाली पंचायतों को चिन्हित करने के निर्देश दिए ताकि उन पंचायतों में विशेष ध्यान दिया जा सके।

उन्होंने महिला एवं बाल विकास विभाग को जिला की उत्कृष्ट कार्य करने वाली महिलाओं को चयनित करने के निर्देश दिए ताकि उनको प्रोत्साहित करने के लिए जिला स्तरीय कार्यक्रम में सम्मानित किया जाएगा।

उन्होंने जिला रेड क्रॉस सोसाइटी को भी निर्देश दिए कि वे रेडक्रॉस मेले के दौरान हेल्दी बेबी प्रतियोगिता भी आयोजित करवाएं। उन्होंने कहा कि जिन पंचायतों में लिंग अनुपात बेहतर है उन पंचायतों को भी जिला स्तरीय कार्यक्रम में सम्मानित किया जाएगा।

उन्होंने कहा कि बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना एक बहुत अहम योजना है इस योजना में महिला सशक्तिकरण और बालिका अधिकार पर विशेष ध्यान रखा गया है और इस योजना के तहत की करवाई जा रही गतिविधियों में सभी अधिकारी व्यक्तिगत अपनी सहभागिता सुनिश्चित बनाएं।

बैठक में उन्होंने शिक्षा विभाग को नौवीं से 12वीं कक्षा में पढ़ रही गरीब परिवार से संबंध रखने और पढ़ाई में उत्कृष्ट करने वाली 100 छात्राओं को चयनित करने के निर्देश भी दिए ताकि उन्हें उच्च शिक्षा व प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी के लिए वित्तीय सहायता प्रदान की जा सके।

बैठक की कार्यवाही का संचालन जिला कार्यक्रम अधिकारी महिला एवं बाल विकास विभाग राकेश कुमार ने किया।

बैठक में पुलिस अधीक्षक अभिमन्यु वर्मा, जिला स्वास्थ्य अधिकारी डॉ जालम भारद्वाज ,खंड विकास अधिकारी भटियात मान सिंह, सलूणी निशी महाजन,भरमौर सुरेंद्र मैहला मनीष कुमार, सचिव जिला रेड क्रॉस सोसाइटी चंबा नीना सहगल, उप जिला शिक्षा अधिकारी प्रारंभिक उमाकांत , प्रधानाचार्य औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान चंबा विपिन शर्मा सहित अन्य अधिकारी मौजूद रहे।