Breaking
डाक मतपत्र से वोट डाल सकेंगे आवश्यक सेवाओं में लगे मतदाता: डीसी         बैलेट पेपर एवं पोस्टल बैलेट पेपर प्रिंट करने के संबंध में बैठक आयोजित         उपायुक्त ने बीडीओ टूटू अनमोल को यूपीएससी परीक्षा पास करने पर दी बधाई         आदर्श आचार संहिता लागू होने के बाद 7.85 करोड़ रुपये की जब्ती         अग्निवीर की ऑनलाइन परीक्षा 22 अप्रैल से         अपनी खीज मिटाने में जुटे कांग्रेस नेता - बिंदल         दुर्गाष्टमी के अवसर पर राजभवन में फलाहार ग्रहण कार्यक्रम का आयोजन         बिजली रहेगी गुल         कांग्रेस पार्टी की नियत में खोट, 1500 महिलाओं को देना की इच्छा नहीं : त्रिलोक         भाजपा का संकल्प पत्र मोदी की गारंटी : बिंदल         बायोलचिम इंडिया प्राइवेट लिमिटेड ने किया किसान संगोष्ठी का सफल आयोजन         भाजपा संगठन महामंत्री सिद्धार्थन ने कार्यकर्ताओं को चुनावी टिप्स         कंगना के साथ भाजपा नेता जयराम ठाकुर ने की दलाई लामा से मुलाकात         मतदाता पहचान पत्र बनाने के लिए नए मतदाता 4 मई तक कर सकते हैं आवेदन         आधुनिक हिमाचल के निर्माण में स्व. वीरभद्र सिंह ने निभाई महत्वपूर्ण भूमिका : यशवंत छाजटा         केंद्रीय विद्यालय सलोह में रिक्तियों के लिए आवेदन 25 अप्रैल तक         आवश्यक सेवाओं से जुड़े अधिकारी व कर्मचारी पोस्टल बेल्ट सुविधा से कर सकेंगे मतदान         परस राम धीमान और समर्थकों ने मुख्यमंत्री सुखविंदर सिंह से की मुलाकात         राहुल गाँधी की न्याय गारंटियों का प्रदेशभर में प्रचार करेंगी एनएसयूआई         भाजपा ने 1500 रुपये रुकवाकर महिलाओं को किया अपमानित : कांग्रेस

डिफेंस अकादमी ऊना में मनाया ड्रग एब्यूज डे

हिम न्यूज़, ऊना: स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग ऊना ने हिमाचल प्रदेश डिफेंस अकादमी ऊना में नशीली दवाओं के दुरूपयोग व अवैध तस्करी के खिलाफ ड्रग एब्यूज डे का आयोजन किया। इस बारे जानकारी देते हुए जिला कार्यक्रम अधिकारी डाॅ ऋचा कालिया ने बताया कि नशा मुक्त भारत के लिए भारत सरकार ने संकल्प लिया है।

नशीली दवाओं के प्रयोग से व्यक्ति के शारीरिक व मानसिक स्वास्थ्य पर दुष्प्रभाव पड़ता है। उन्हांेने बताया कि भारत में करीब 10 लाख लोग अधिकारिक तौर पर हेरोइन का प्रयोग करते हैं जबकि वास्तविक संख्या करीब 50 लाख है।

उन्होंने बताया कि एक सर्वे के अनुसार प्रदेश के 40 प्रतिशत युवा इस समस्या के शिकार हो रहे हैं। उन्होंने बताया कि 29.3 प्रतिशत युवा सिगरेट व खैनी का प्रयोग करते हैं। 24.45 प्रतिशत शराब, 20.87 प्रतिशत भांग, 4.45 प्रतिशत कफ सिरप व 3.4 प्रतिशत युवा अफीम का प्रयोग कर रहे हैं।

आज की युवा पीढ़ी जल्द ही तनावग्रस्त हो जाती है। अपने दोस्तों की गलत संगत में आकर नशे का शिकार हो जाते हैं। नशे के चक्रव्यूह में फंसकर इस लत से बाहर निकलना कठिन हो जाता है। कई बार यह परिस्थिति असमय मृत्यु का कारण भी बन जाती है।

जिला कार्यक्रम अधिकारी डाॅ ऋचा कालिया कई बार परिवार में माता पिता दोनों काम काज में व्यस्त होने के चलते अपने बच्चों को स्नेह नहीं दे पाते, जिससे असफलता, धोखा, नैतिक मूल्यों के ह्रास के कारण बच्चे इस दलदल में फंस जाते हैं।

उन्होंने उपस्थित समस्त प्रतिभागियों से आहवान किया कि नशे से दूर रहें और स्वस्थ्य जीवन जीएं। नशीली दवाओं का सेवन जानलेवा है। उन्होंने बताया कि आरएच ऊना में नशा छुड़ाने के लिए ओएसटी केंद्र में निःशुल्क ईलाज किया जाता है।

इस मौके पर स्वास्थ्य विभाग की ओर से भाषण व पोस्टर मेकिंग प्रतियोगिताओं का आयोजन भी करवाया गया।

इस अवसर पर जन शिक्षा एवं सूचना अधिकारी शारदा सारस्वत, बीसीसी कोआॅर्डिनेटर कंचन माला, डिफेंस अकादमी के निदेशक कर्नल डीपी वशिष्ट, कर्नल कुलदीप जसवाल, टेक चंद ठाकुर, कैप्टन विजय शंकर सहित अन्य उपस्थित रहे।