Breaking
3 लाख से कम आय है तो ले सकते हैं मुफ्त कानूनी मदद         शास्त्री एवं भाषा अध्यापकों की भर्ती के लिए काउंसलिंग 26 व 27 फरवरी को         सिरमौर जिला में 28 और 29 फ़रवरी को  लगेंगी राजस्व लोक अदालतें-सुमित खिमटा         दैनिक आहार में मोटे अनाज को अवश्य शामिल करें         पंचायती राज संस्थाओं में रिक्त पदों के लिये उप-चुनाव 25 फरवरी को         चुनाव प्रक्रिया के दौरान सभी नोडल अधिकारियों की भूमिका अग्रणी और महत्वपूर्ण - अनुपम कश्यप         तीन दिवसीय राज्य स्तरीय छेश्चू मेला संपन्न         तंबोला की 13 लाख में हुई नीलामी         राजभवन में अरूणाचल प्रदेश और मिज़ोरम का स्थापना दिवस आयोजित         बिना बजट के योजनाएं घोषित करने वाले हवा-हवाई सीएम बने सुक्खू : जयराम ठाकुर         मुख्यमंत्री ने सेना के जवान के निधन पर शोक व्यक्त किया         मुख्यमंत्री ने लोक निर्माण विभाग के 15 टिप्परों को रवाना किया         हमने शिमला संसदीय क्षेत्र में पिछले 5 साल में 15000 करोड़ रुपए से अधिक के काम करवाए : कश्यप         2004 से 2014 तक कांग्रेस के 10 साल भ्रष्टाचार : बिंदल         जोगिन्दर नगर के रैंस भलारा की महिलाएं तैयार कर रही हैं विभिन्न तरह का आचार         जिला स्तरीय लोकगीत प्रतियोगिता के लिए पंजीकरण 26 तक         कांगड़ा और चंबा के युवाओं ने लिया राष्ट्रीय युवा संसद में भाग         प्रतिभा सिंह ने नाचन विधानसभा क्षेत्र में किए विभिन्न विकासात्मक कार्यों के शिलान्यास         आईपीएस अधिकारी राकेश सिंह ने संभाला एसपी ऊना का पदभार         कुपोषण की रोकथाम के लिए मिशन मोड में कार्य किया जाएगा - जतिन लाल

सिरमौर में तेजी से बढ़ रहे कोविड के मामले, 112 हुई मरीजों की संख्या

हिम न्यूज़, नाहन – जिला सिरमौर में वैश्विक महामारी कोविड-19 का संक्रमण एक बार पुनः बढ़ने लगा है जिसके दृष्टिगत उपायुक्त सिरमौर राम कुमार गौतम ने सभी जिलावासियों से आवश्यक सावधानी बरतने की अपील की है।

उन्होंने कहा कि गत दिनों कोविड के मामलों में गिरावट के बाद से लोगों ने मास्क का प्रयोग कम कर दिया था और अन्य जिलों व राज्यों में आना जाना शुरू किया जिससे अब फिर से कोविड के मामलों में बढोतारी दर्ज हुई है जोकि चिंता का विषय है। उन्होंने बताया कि आज जिला में कोविड-19 के सक्रिय मामलों की संख्या 112 पहुंच चुकी है और इस संख्या में प्रतिदिन बढोतरी हो रही है।

उपायुक्त ने  कहा कि कोविड-19 से बचाव के दृष्टिगत मास्क का उपयोग, हाथों की स्वच्छता तथा 2 गज की दूरी जैसे नियमों का पालन करें।

उन्होंने जिला के लोगों से अपील की है कि वह अनावश्यक रुप से ज्यादा भीड़ वाली जगहों पर जाने से बचें तथा सार्वजनिक स्थलों पर, सरकारी कार्यालयों में व सार्वजनिक वाहनों में सफर के दौरान मास्क तथा सैनिटाइजर का उपयोग करें और एक दूसरे से उचित दूरी बनाकर रखें।

किसी भी प्रकार के जुखाम, खांसी, बुखार, बदन दर्द तथा सांस से संबंधित समस्या को हल्के में न लें तथा अपनी कोरोना जांच करवाएं। उन्होंने कहा कि वरिष्ठ नागरिकों व पहले से गंभीर बीमारियों से ग्रस्त लोगों को अतिरिक्त सावधानी बरतने की आवश्यकता है।

उपायुक्त ने कहा कि कोविड-19 महामारी का खतरा अभी पूरी तरह से समाप्त नहीं हुआ है, इसलिए सावधानी बरतें। उन्होंने बताया कि कोविड-19 के मरीजों के लिए सिविल अस्पताल पांवटा साहिब में 40 बेड और डाॅ यशवंत सिंह परमार राजकीय मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल नाहन में 30 बेड की व्यवस्था है।

इसके अतिरिक्त, सभी स्वास्थ्य संस्थानों में आइसोलेशन वार्ड तैयार किए गए हैं जहां से कोविड-19 के मरीजों को सिविल अस्पताल पांवटा साहिब या डाॅ यशवंत सिंह परमार राजकीय मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल नाहन शिफ्ट किया जाएगा।

उन्होंने जिला के सभी 18 वर्ष से अधिक आयु के पात्र लोगों से कोविड वैक्सीन की बूस्टर डोज लगवाने की भी अपील की। उन्होंने बताया कि सरकार द्वारा 15 जुलाई 2022 से बूस्टर डोज मुफ्त में लगाई जा रही है जिसका जिला वासियों को भरपूर फायदा उठाना चाहिए और कोविड संक्रमण से अपनी और अपने परिवार की सुरक्षा सुनिश्चित करनी चाहिए।