Breaking
गांधी और शास्त्री को दी श्रद्धांजली, भजन कीर्तन के साथ निकाली प्रभात फेरी         शिमला ग्रामीण युवा मोर्चा अध्यक्ष सुमित ठाकुर ने बनाई कार्यकारिणी, जुझारू युवाओं को मौका         भाजपा ने प्रदेश भर में चलाया स्वच्छता पखवाड़ा : बिंदल         पुलिस विभाग में आरक्षियों के 1226 पद भरने की स्वीकृति         विधायक नीरज नैय्यर की माता की रस्म क्रिया में शामिल हुए मुख्यमंत्री         मुख्यमंत्री ने राज्य स्तरीय मैराथन (रेड रन) का शुभारम्भ किया         राज्यपाल ने हरित एवं स्वच्छ ऊर्जा क्षेत्र में एकजुट प्रयासों पर बल दिया         रैत में  छात्राओं की जिला स्तरीय अंडर 19 खेलकूद प्रतियोगिता का शुभारंभ         अच्छा प्रदर्शन करने वाले छात्र और शिक्षक किए जाएंगे सम्मानित:शिक्षा मंत्री         कांग्रेस के नेता लगातार जवाब देने से भाग रहे हैं : बिंदल         कांगड़ा जिला में विभिन्न योजनाओं के तहत 13500 महिलाएं लाभांवित: पठानिया         सौर ऊर्जा परियोजनाओं से उत्पादित बिजली की 25 वर्षों तक खरीद करेगी प्रदेश सरकारः मुख्यमंत्री         ऋण के मामलों को मंजूर करने में देरी न करें बैंक: एडीसी         ट्रांसजेंडर को समाज की स्वीकृति के साथ स्वयं की पहचान चाहिए-धनंजय चौहान         स्कूली छात्रा को अश्लील गालियां देने और अश्लीलता भरे ईशारे करने के दोषी को कठोर कारावास एवं जुर्माना         केन्द्रीय अंतर मंत्रालय दल ने किया वर्षा प्रभावित दून और नालागढ़ विधानसभा क्षेत्रों का दौरा         बलाना-गोला संपर्क सड़क मार्ग के निर्माण कार्यों पर व्यय होंगे 6 लाख 25 हज़ार         जवाहर नवोदय विद्यालय में हिंदी पखवाड़ा का समापन समारोह आयोजित         जल्दी पूरी होंगी जायका चरण-दो के तहत बन रही सिंचाई योजनाएं-डॉ बलवीर  सिंह ठाकुर         पहली बार होगा शिमला फ्लाइंग फेस्टिवल का आयोजन, दुनियाभर से प्रतिभागी लेंगे हिस्सा

एससी/एसटी एक्ट के तहत 53 मामलों में 60 पीड़ितों को जारी की 77 लाख की राशि – डीसी

हिम न्यूज़,  नाहन 15 जून – सिरमौर जिला में अनुसूचित जाति/अनुसूचित जनजाति अत्याचार निवारण अधिनियम के तहत वर्ष 2019 से 31 मई 2022 तक 53 मामलों के तहत 60 पीड़ितों को 77 लाख रुपये की राहत राशि जारी की गई है।

यह जानकारी उपायुक्त सिरमौर राम कुमार गौतम ने आज यहां जिला स्तरीय सतर्कता एंव प्रबोधन समिति की बैठक की अध्यक्षता करते हुए दी। उन्होंने बताया कि जिला में 2019 से अब तक कुल 54 मामले दर्ज हुए जिनमें से 39 न्यायालय में लंबित, 10 मामले खारिज, 03 मामलों से एससी/एसटी की धाराएं हटाई गई, 01 मामले की पुलिस द्वारा छानबीन की जा रही है जबकि 1 मामले में बरी किया गया है।

इसके उपरान्त, स्थानीय स्तरीय समिति की बैठक में बताया गया कि इस त्रैमास में कानूनी संरक्षक हेतु कोई भी मामला समिति के समक्ष नहीं रखा गया जबकि इस अवधि में 02 आवेदन प्राप्त हुए हैं जिन्हें संबंधित तहसील कल्याण अधिकारियों को नियमानुसार औपचारिकताएं पूर्ण करवाने एवं तथ्यों की छानबीन हेतु प्रेषित किया गया है।

उपायुक्त ने जिला स्तरीय दिव्यांगता समिति की बैठक में डॉ वाईएस परमार मेडिकल कॉलेज में दिव्यांगजनों को चिकित्सा प्रमाण पत्र बनाने के लिए सप्ताह में 2 दिन निर्धारित करने के निर्देश स्वास्थ्य अधिकारियों को दिए। इसके अतिरिक्त, उन्होंने मेडिकल काॅलेज के साथ-साथ जिला के समस्त सरकारी एवं निजी स्वास्थ्य संस्थानों में दिव्यांगजनों व वरिष्ठ नागरिकों की सुविधा के लिए अलग कतार की व्यवस्था करने के निर्देश दिए।

अल्पसंख्यक वर्ग के कल्याणार्थ

अल्पसंख्यक वर्ग के कल्याणार्थ के लिए प्रधानमंत्री नया 15 सूत्री कार्यक्रम की बैठक में एकीकृत बाल विकास योजना सेवाओं की उपलब्धता, विद्यालय शिक्षा की उपलब्धता को सुधारने, उर्दू शिक्षण के लिए अधिक संसाधन, मदरसा शिक्षा का आधुनिकीकरण, अल्पसंख्यक समुदायों के मेधावी विद्यार्थियों के लिए छात्रवृत्ति, मौलाना आजाद शिक्षा प्रतिष्ठान के माध्यम से शैक्षिक अवसंरचना को उप्रत करना, दीनदयाल अंत्योदय योजना – राष्टीय शहरी आजीवीका मिशन, तकनीकी शिक्षा के माध्यम से कौशल उन्नयन, अल्पसंख्यक समुदाय वाली मलिन बस्तियों की स्थिति में सुधार, राज्य व केन्द्रीय सेवाओं में भर्ती, ग्रामीण आवास योजना में संचित हिस्सेदारी, सांप्रदायिक घटनाओं की रोकथाम, सांप्रदायिक अपराधों की रोकथाम हेतु अभियोजन तथा सांप्रदायिक दंगो के पीडितों को पुर्नवास जैसे मदो पर विस्तृत चर्चा की गई।

उन्होंने बताया कि कैलेण्डर वर्ष 2022-23 में अल्पसंख्यक समुदाय के 16 लाभार्थियों को 70 लाख 70 हजार रुपए की राशि ऋण व अभी तक जिला में कुल 1325 लाभार्थियों को 31 करोड़ 63 लाख की राशि सरल ऋण के रूप में प्रदान की जा चुकी है। उन्होंने शिक्षा विभाग के अधिकारीयों को स्कूल अध्यापकों को अल्पसंख्यक मेधावी छात्र-छात्राओं को प्रोतसाहित करने के निर्देश दिए ताकि अधिक संख्या में छात्र-छात्राएं छात्रवृति के लिए आवेदन करें।

बैठक में जिला कल्याण अधिकारी विवेक अरोड़ा ने उपायुक्त सहित बैठक में आए सरकारी एवं गैर सरकारी सदस्यों का स्वागत किया तथा बैठक की कार्रवाई को मदवार प्रस्तुत किया।