Breaking
डाक मतपत्र से वोट डाल सकेंगे आवश्यक सेवाओं में लगे मतदाता: डीसी         बैलेट पेपर एवं पोस्टल बैलेट पेपर प्रिंट करने के संबंध में बैठक आयोजित         उपायुक्त ने बीडीओ टूटू अनमोल को यूपीएससी परीक्षा पास करने पर दी बधाई         आदर्श आचार संहिता लागू होने के बाद 7.85 करोड़ रुपये की जब्ती         अग्निवीर की ऑनलाइन परीक्षा 22 अप्रैल से         अपनी खीज मिटाने में जुटे कांग्रेस नेता - बिंदल         दुर्गाष्टमी के अवसर पर राजभवन में फलाहार ग्रहण कार्यक्रम का आयोजन         बिजली रहेगी गुल         कांग्रेस पार्टी की नियत में खोट, 1500 महिलाओं को देना की इच्छा नहीं : त्रिलोक         भाजपा का संकल्प पत्र मोदी की गारंटी : बिंदल         बायोलचिम इंडिया प्राइवेट लिमिटेड ने किया किसान संगोष्ठी का सफल आयोजन         भाजपा संगठन महामंत्री सिद्धार्थन ने कार्यकर्ताओं को चुनावी टिप्स         कंगना के साथ भाजपा नेता जयराम ठाकुर ने की दलाई लामा से मुलाकात         मतदाता पहचान पत्र बनाने के लिए नए मतदाता 4 मई तक कर सकते हैं आवेदन         आधुनिक हिमाचल के निर्माण में स्व. वीरभद्र सिंह ने निभाई महत्वपूर्ण भूमिका : यशवंत छाजटा         केंद्रीय विद्यालय सलोह में रिक्तियों के लिए आवेदन 25 अप्रैल तक         आवश्यक सेवाओं से जुड़े अधिकारी व कर्मचारी पोस्टल बेल्ट सुविधा से कर सकेंगे मतदान         परस राम धीमान और समर्थकों ने मुख्यमंत्री सुखविंदर सिंह से की मुलाकात         राहुल गाँधी की न्याय गारंटियों का प्रदेशभर में प्रचार करेंगी एनएसयूआई         भाजपा ने 1500 रुपये रुकवाकर महिलाओं को किया अपमानित : कांग्रेस

बिना बजट के योजनाएं घोषित करने वाले हवा-हवाई सीएम बने सुक्खू : जयराम ठाकुर

हिम न्यूज़,शिमला:  नेता प्रतिपक्ष जयराम ठाकुर ने कहा कि सुखविंदर सिंह सुक्खू बिना बजट प्रावधानों के ही हवा हवाई योजनाओं की घोषणा करने वाले मुख्यमंत्री के रूप में जाने जाएंगे। दो बार के बजट में सुखविंदर सिंह सुक्खू ने प्रदेश के बजट में सिर्फ़ हवाहवाई बातें की गई।

अब लोग उन्हें हवा-हवाई सीएम के नाम स बुला रहे हैं। आज तक प्रदेश में इस तरह का बजट पेश नहीं हुआ कि पिछली साल  का  बजट भाषण और इस साल के बजट भाषण में कोई अंतर ही नहीं।  चाहे कांग्रेस सरकार की  पहली  बजट की स्पीच पढ़िए या दूसरी कोई  ख़ास अंतर नहीं है।  यही हाल सरकार के सदन में दिये जा रहे जवाबों का है। मुख्यमंत्री से कोई भी सवाल किया जाए तो उनका वही घिसा पिटा जवाब  रहता है।  दुःख इस बात का है कि मुख्यमंत्री से बार-बार सदन के अंदर कहने और उनके आश्वासन बाद भी मुद्दे हाल नहीं हो पा रहे हैं।

शिमला से जारी बयान में जयराम ठाकुर ने कहा कि सदन की एक गरिमा होती है। मुख्यमंत्री और मंत्री के सामने सदन के अंदर ही कई अहम विषय उठाए गए।  जिसे सुलझाने के लिए  सदन में आश्वासन भी मिला।  लेकिन एक साल काहाल वही ढाँक के तीन पात। जो स्थित एक साल पहले थी, वही स्थिति आज भी है और लग रहा है कि आगे भी यही स्थिति रहेगी। उन्होंने कहा कि इस मामले में गंभीरता से सरकार की जवाबदेही तय करनी चाहिए।

जयराम ठाकुर ने कहा कि सरकार के किसी भी चीज के लिए गंभीर नहीं है। सरकार ने सदन में लिखित जवाब में कहा कि करुणामूलक से संबंधित आंकड़े ही सरकार के पास नहीं है। जब सरकार के पास आंकड़े ही नहीं हैं तो वह नौकरी कहां से देगी। जयराम ठाकुर ने कहा कि सरकार इस संवेदनहीनता से काम कर रही है।

एक ही कार्यकाल में एम्स का शिलान्यास और उद्घाटन ही है प्रधानमंत्री मोदी की गारंटी

जयराम ठाकुर ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने जम्मू में एम्स और आईआईएम का उद्घाटन किया। चार साल पहले 2019 में प्रधानमंत्री ने ही जम्मू एम्स की इसकी आधारशिला भी  रखी थी।  इसके साथ ही प्रधानमंत्री ने जम्मू में करीब 32 हजार करोड़ के प्रोजेक्ट्स का लोकार्पण और शिलान्‍यास भी किया। प्रधानमंत्री ने जम्मू एयरपोर्ट के नए टर्मिनल भवन और ‘कॉमन यूजर फैसिलिटी’ पेट्रोलियम डिपो की आधारशिला भी रखी। उन्होंने कहा कि एक ही कार्यकाल में एम्स जैसे बड़े संस्थानों का शिलान्यास तथा लोकार्पण और हज़ारों करोड़ की विकासात्मक योजनाएं प्रधानमंत्री मोदी की गारंटी है। जिस पर देश भरोसा करता है।