Breaking
महाविद्यालय के वार्षिक पारितोषिक वितरण कार्यक्रम की अध्यक्षता की               अब एक्शन से लाएगी परिणाम: बागवानी मंत्री               मुख्यमंत्री को सूचना एवं जनसंपर्क विभाग ने दी बधाई               युवा कांग्रेस का धरना गलत : नंदा               लाइनों को  बिछाने का कार्य शुरू               ट्रांसपोर्ट रोपवे प्रोजेक्ट के वित्तपोषण में लाएं तेज़ीः मुख्यमंत्री               अतिरिक्त उपायुक्त सौरभ जस्सल की अध्यक्षता में बैठक आयोजित               विजिलेंस को उपलब्ध करवाया कर्मचारी चयन आयोग का रिकार्ड               केंद्रीय विद्यालय नादौन में दाखिले के लिए ऑनलाइन पंजीकरण 27 से               गर्भवती महिलाओं के लिए वरदान साबित हो सकता है मोटा अनाज

महेंद्र सिंह ठाकुर ने किया के झरेड़ा में 10 करोड़ की लागत का एकीकृत मधुमक्खी विकास केन्द्र का भूमि पूजन

 हिम न्यूज़. धर्मपुर (मंडी)  – जल शक्ति , बागवानी, राजस्व व सैनिक कल्याण मंत्री महेंद्र सिंह ठाकुर ने आज धर्मपुर विधानसभा क्षेत्र के झरेड़ा में 10 करोड़ रुपये की लागत से बनने वाले प्रदेश के एकमात्र एकीकृत मधुमक्खी विकास केन्द्र का भूमिपूजन किया।

इस अवसर पर जनसभा को सम्बोधित करते हुए जल शक्ति मंत्री ने कहा कि इस मधुमक्खी केन्द्र में 500 इटालियन तथा 50 स्थानीय मधुमक्खी के बक्से रखे जाएंगें, मधुमक्खी बक्सों का निर्माण किया जाएगा, शहद व अन्य मधुमक्खी उत्पादों हेतु प्रसंस्करण ईकाई की स्थापना ,शहद व अन्य मधुमक्खी उत्पादों का एकत्रीकरण सुधारीकरण व वितरण, शहद प्रशिक्षण प्रयोगशाला, प्रशिक्षण और क्षमता निर्माण कार्यक्रम होंगे ।

उन्होंने  बताया कि राज्य मधुमक्खी बोर्ड की भी सथापना कर दी गई है तथा प्रगतिशील मधुमक्खी पालकों के लिए प्रोत्साहन व पुरस्कार योजना भी आरम्भ की गईं गई है।

महिंदर सिंह ठाकुर  ने  कहा कि गत साढ़े चार वर्ष के कार्यकाल के दौरान जय राम ठाकुर सरकार ने हिमाचल प्रदेश में सर्वांगीण विकास किया है। सरकार ने लोगों के कल्याण को सर्वोच्च अधिमान देते हुए बिना किसी भेदभाव के अनेकों योजनाएं यथार्थ में लाई जिनका सीधा लाभ समाज के अंतिम छोर पर बैठे व्यक्ति तक पहुँच रहा है।
मशरूम का भी सबसे बड़ा प्रोजेक्ट

उन्होंने कहा आज विकास पथ पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के मार्गदर्शन तथा केन्द्र सरकार के सहयोग से हिमाचल प्रदेश ने अपनी अलग पहचान बनाई है तथा प्रदेश विकास के नए शिखर छू रहा है।बताया कि मशरूम का भी सबसे बड़ा प्रोजेक्ट भी विस क्षेत्र के सिद्धपुर मे शीघ्र कार्य करना शुरू करेगा जिससे लोगों की आर्थिक स्थिति सुधरेगी।

जल शक्ति मंत्री ने कहा कि मुख्य मंत्री जय राम ठाकुर के कुशल नेतृत्व में वैश्विक कोरोना महामारी भी बाधक नहीं बन सकी प्रदेश में विकास की प्रक्रिया को जारी रखने में ।

उन्होने कहा कि लोगों के कल्याण को सर्वोपरि रखते हुए प्रदेश सरकार ने मुख्यमंत्री गृहिणी सुविधा, सहारा, मुख्यमंत्री हिमकेयर तथा मुख्यमंत्री स्वावलंबन योजना से राज्य के हर तबके व व्यक्ति को लाभान्वित करने का हरसंभव प्रयास किया है।जल शक्ति मंत्री ने कहा कि सरकार का वर्तमान कार्यकाल असहाय, गरीब व जरूरतमंदों लोगों के सामाजिक व आर्थिक के लिए समर्पित रहा है।

जल शक्ति मंत्री ने कहा कि जयराम सरकार ने सामाजिक सुरक्षा पेंशन में बिना आय सीमा के वृद्धावस्था पेंशन के लिए आयु सीमा 70 वर्ष से घटाकर 60 वर्ष व पेंशन राशि में भी बढ़ोतरी की है। साथ ही मुख्यमंत्री गृहिणी सुविधा योजना और प्रधानमंत्री उज्जवला योजना के तहत एक और अतिरिक्त नि:शुल्क सिलेंडर प्रदान किया जा रहा है।महिलाओं को एचआरटीसी बसों में अब आधा किराया देना होगा ।नयूनतम बस किराया भी अब पांच रूपये लगेगा।ग्रामीण क्षेत्रों में अब पेयजल आपूर्ति मुफ्त होगी वही 125 यूनिट तक बिजली फ्री होगी ।

उन्होंने कहा की हिमकेयर कार्ड की नवीनीकरण अवधि एक साल से बढ़ाकर 3 साल की गई तथा नए परिवारों का पंजीकरण पूरे वर्ष किया जाएगा । हरी स्थानीय निकायों व पंचायती राज संस्थाओं के प्रतिनिधियों के मानदेय में भी वृद्धि की है।
मुख्यमंत्री स्वावलम्बन योजना

मुख्यमंत्री स्वावलम्बन योजना के अंतर्गत महिलाओं के लिए अनुदान बढ़ाकर 35 प्रतिशत तथा अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति एवं दिव्यांगजनों के लिए 30 प्रतिशत किया गया है। धर्मपुर विस क्षेत्र में हुए विकास कार्यों की चर्चा करते हुए जलशक्ति मंत्री ने कहा कि प्रदेश के निचले क्षेत्रों के किसानों व बागवानों की आर्थिकी को सुदृढ़ बनाने को एचपी शिवा प्रोजेक्ट की शुरूआत की गई है।

जिसके माध्यम से प्रदेश के सात जिलों में बागवानी से किसानों की आर्थिकी को सुदृढ़ हो रही है। प्रदेश के निचले क्षेत्रों के लिए यह परियोजना न केवल बागवानी के नए द्वार खोल रही है, बल्कि शिक्षित बेरोजगार युवाओं के लिए घर बैठे स्वरोजगार का भी एक अहम जरिया साबित हो सकता है।

मढ़ी में खोला जा रहा है पहला अटल आदर्श विद्यालय

जल शक्ति मंत्री ने कहा कि धर्मपुर विधानसभा सभा क्षेत्र में 9 नई पंचायतों का गठन किया गया ताकि विभिन्न योजनाओं के कार्यान्वयन में गति लाई जा सके तथा तीव्र विकास सुनिश्चित हो सके ।बताया कि धर्मपुर विधान सभा क्षेत्र में 35 करोड़ की प्री कोचिंग सैन्य अकादमी बरच्छबाड़ मे शीघ्र कार्य करेगी ,35 करोड़ रुपये की लागत से प्रदेश का पहला अटल आदर्श विद्यालय मढ़ी में खोला जा रहा है ।

स्वास्थ्य के क्षेत्र में धर्मपुर में अभूतपूर्व कार्य हुआ है। उन्होंने कहा कि इस कार्यकाल में धर्मपुर विधानसभा क्षेत्र में 45-45 करोड़ की लागत से धर्मपुर और संधोल में बन रहे 100 बिस्तर वाले अस्पताल व 50 बिस्तरों वाले टीहरा और मण्डप अस्पताल के साथ ही 25 करोड़ की लागत से बन रहे 30 बिस्तर वाले सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र धाड़ का कार्य प्रगति पर है। संधोल, धर्मपुर व टीहरा में मिनी सचिवालय बनाए जा रहे हैं । धर्मपुर व संधोल में केन्द्रीय विद्यालय खोले गए ।करोड़ों-करोड़ों रूपये की पेयजल व सिंचाई योजनाओं ,पुलों, सड़कों का निर्माण व शिक्षा संस्थान आदि खोले जा रहे हैं ।

उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार जल जीवन मिशन में हर घर को नल से शुद्ध जल पहुंचाने के निर्धारित लक्ष्य को समय से पहले प्राप्त करने कै लिए बचनबद्ध है । जल शक्ति मंत्री ने कहा कि प्रदेश सरकार ने गत साढ़े चार वर्षों के दौरान प्रदेश में 8.78 लाख से अधिक पानी के नल स्थापित कर प्रत्येक घर को नल से पेयजल प्रदान करने में प्रशंसनीय प्रदर्शन किया है।

जल शक्ति मंत्री ने कहा कि हिमाचल प्रदेश ने भी 93 प्रतिशत घरों को पेयजल उपलब्ध करवाने का लक्ष्य प्राप्त कर लिया है। उन्होंने कहा कि मिशन के तहत उत्कृष्ट कार्य करने के लिए गत दो वर्षों से हिमाचल प्रदेश को लगातार प्रोत्साहन राशि भी मिली।इस अवसर पर उन्होंने कार्यक्रम में सांस्कृतिक प्रस्तुति हेतु कशिश व पारटी को पांच हजार रूपये देने की घोषणा की ।

मंत्री ने लोगों की समस्याओं को भी सुना ।

इससे पूर्व धर्मपुर में मंत्री ने विभिन्न विभागों के अधिकारियों के साथ बैठक व निर्माणाधीन योजनाओं व विकासात्मक कार्यो के बारे जानकारी ली।

इस अवसर पर मंडलाधयक्ष पूर्ण चंद ठाकुर, जि़ला परिषद सदस्य जगदीश बिटटा , प्रधान बनेरडी मीरां देवी,संयुक्त निदेशक बागबानी सैंटर जोन डाॅ आर एल संधु,उपनिदेशक बागबानी संजय गुप्ता, वैज्ञानिक डाॅ वीरेन्द्र राणा,प्रधान पैहड मीना देवी,प्रधान कुमाहरड़ा प्रकाश सकलानी ,उपप्रधान राजिन्दर पाल,प्रकाश, पूर्व प्रधान कृषण कुमार,एसएमएस रामेश ठुकराल , बी डी ओ बालम राम, अधिशाषी अभियन्ता जलशक्ति राकेश पराशर, , , एसएमएस बागबानी रमेश ठुकराल, उपमण्डलीय भू-संरक्षण अधिकारी सरकाघाट डॉ0 धर्मपाल ठाकुर, क्षेत्रीय प्रबन्धक एचआरटीसी नरेन्द्र शर्मा, अधिशाषी अभियन्ता विद्युत सुनील, पंचायती राज संस्थानों के पदाधिकारी, पार्टी कार्यकर्ता तथा विभिन्न विभागों के अधिकारियों सहित कई गण्यमान्य लोग मौजूद रहे।