Breaking
बिना एडमिट कार्ड के भर्ती रैली में नहीं मिलेगा प्रवेश - भर्ती निदेशक         स्टाफ नर्स के भरे जाएंगे 21 पद - जिला रोजगार अधिकारी         उपलब्धियों भरा रहा प्रदेश सरकार का एक साल का कार्यकाल: उप-मुख्यमंत्री         परीक्षा में फेल हुआ विद्यार्थी पार्टी देने की बात कर रहा है : खन्ना         2047 तक विकसित भारत-युवाओं की आवाज विषय पर कार्यशाला आयोजित         विंटर कार्निवाल मनाली का आयोजन 2 जनवरी से 6 जनवरी तक किया जा रहा है         उम्मीदवार लिखित परीक्षा में उत्तीर्ण हुए हैं वे अपने एडमिट कार्ड प्रिंट कर ले         लोक नृत्य प्रतियोगिता का आयोजन 15 दिसंबर होगा         भून्तर स्थित नशा मुक्ति केंद्र में मरीज का उपचार वाहय रोगी या आवासीय रोगी के रूप में किया जाता है :अनिता ठाकुर         सोलन विधानसभा क्षेत्र में स्वीप के तहत 11, 12 दिसम्बर के जागरूकता कार्यक्रम         2050 विद्यालय बनेंगे मुख्यमंत्री स्कूल ऑफ एक्सीलेंस         शिवधाम प्रोजेक्ट को पूरा करने का हर संभव प्रयास किया जाएगा:  विक्रमादित्य सिंह         मैक्लोडगंज मॉनेस्टरी के बाहर बनेगा भव्य द्वारभारत और तिब्बती समुदाय: आर.एस बाली         मुख्यमंत्री आउटलुक बिजनेस मैगजीन के ‘चेंजमेकर्स आफ द ईयर-2023’ में शामिल         राज्यपाल ने 7वें माटी सम्मान समारोह में भाग लिया सांस्कृतिक विरासत के संरक्षण पर दिया बल         देश में इतना बड़ा भ्रष्टाचार, पर कांग्रेस चुप : खन्ना         सुख की सरकार लगातार बन रही दुख की सरकार : बिंदल         सरकारी स्कूलों के 100 बच्चों के लिए आरंभ हुई निशुल्क कोचिंग क्लासेज         सरकार के प्रयासों की हुई देश भर में सराहना: बाली         51 कऱोड़ 22 लाख रुपये की विकासात्मक परियोजना के लोकार्पण व भूमि पूजन

राजभवन शिमला में अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस आयोजित

हिम न्यूज़, शिमला-   अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस पर आज राजभवन शिमला में आयुष विभाग एवं हिमाचल प्रदेश विश्वविद्यालय शिमला के योग विभाग के संयुक्त तत्वावधान में एक कार्यक्रम का आयोजन किया गया। राज्यपाल राजेन्द्र विश्वनाथ आर्लेकर ने कार्यक्रम की अध्यक्षता की।

हिमाचल प्रदेश विश्वविद्यालय के योग विभाग के प्रोफेसर डॉ. सत्य प्रकाश की अगुवाई में राजभवन के कर्मचारियों ने योगाभ्यास किया। राज्यपाल ने भी योग क्रियाएं कीं।

इस अवसर पर राज्यपाल ने कहा कि योग के माध्यम से हमारी समृद्ध परम्पराएं विश्व के समक्ष उजागर हुई हैं। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने अपने प्रभावी प्रयासों से इस विधा को विश्व के समक्ष रखा और यह समझाया कि यह किसी धर्म अथवा पूजा पद्धति से सम्बद्ध नहीं है।

उन्होंने कहा कि योग हमें शारीरिक एवं आत्मिक शांति प्रदान कर सुदृढ़ बनाता है। उन्होंने कहा कि हमें योग को अपनी दिनचर्या का हिस्सा बनाना चाहिए।

राज्यपाल ने कहा कि अगर हम अपनी विशिष्टताओं को भूला देंगे तो कभी भी विश्वगुरू नहीं बन सकते। हमें अपनी परम्पराओं को संजोए रखना चाहिए।

इससे पूर्व डॉ. सत्य प्रकाश ने राज्यपाल को अपनी पुस्तक ‘हठ योग के आधार एवं प्रयोग’ भेंट की। उन्होंने आयुष विभाग की एक सीडी और ‘योग संहिता’ भी राज्यपाल को भेंट की। राज्यपाल ने हिमाचल प्रदेश विश्वविद्यालय के योग विभाग के प्रथम न्यूज़लेटर का भी विमोचन किया। उन्होंने गैर संचारी रोगों के लिए योग प्रबन्धन विषय पर एक पुस्तिका भी जारी की।

इस अवसर पर राज्यपाल के सचिव राजेश शर्मा ने भी सम्बोधन किया।