Breaking
पदमश्री विद्यानंद सरैक होंगे सिरमौर के जिला आईकन         अतिरिक्त व्यय पर्यवेक्षकों के लिए कार्यशाला आयोजित         राष्ट्रीय विज्ञान दिवस पर विजेताओं को कुलपति डाक्टर डी.के.वत्स ने किया पुरस्कृत         विद्यार्थियों ने बनाए चंद्रयान व सौर मंडल के मॉडल         परोल स्कूल में ‘स्वीप’ के तहत आयोजित किया गया जागरुकता कार्यक्रम         बालासुंदरी चैत्र नवरात्र मेला 9 अप्रैल से 23 अप्रैल 2024 तक अयोजित होगा-एल.आर.वर्मा         मतदान फीसद बढ़ाने के लिए योजना पूर्वक करें प्रयास : अपूर्व देवगन         कांगड़ा जिला में मतदाता जारूकता अभियान पर करेंगे विशेष फोक्स: डीसी         मेधा प्रोत्साहन योजना के अभ्यर्थियों की अस्थाई सूची जारी         राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला खल्याणी में जागरूकता शिविर का हुआ आयोजन         कुल्लू में विद्यालय मृदा स्वास्थय कार्यक्रम पर जागरूकता शिविर का आयोजन         हिमतरु प्रकाशन समिति तथा भाषा एवं संस्कृति विभाग के संयुक्त तत्वावधान में आयोजित         निर्वाचन के दृष्टिगत गठित टीमों के लिए प्रशिक्षण कार्यशाला आयोजित         नवोदय विद्यालय में बताया मिट्टी के परीक्षण का महत्व         निर्वाचन प्रक्रिया के सुचारू निर्वहन में नोडल अधिकारियों की अहम भूमिका: डीसी         9 अप्रैल को आयोजित होंगी लोक अदालतें         31 मार्च 2024 तक निर्धारित लक्ष्य पूरा करें सभी विभाग-सुमित खिमटा         जीत से बड़ा मनोबल, इतिहास बदला : बिंदल         प्लांट एवं मशीनरी में 721.78 करोड़ रुपये का निवेश         राज्यपाल ने किया मातृवन्दना पत्रिका के विशेषांक का विमोचन

कार्य पूर्ण होने के स्तर पर पहुंच चुकी परियोजनाओं को समयबद्ध करें विभागः जय राम ठाकुर

मुख्यमंत्री ने विभिन्न विकासात्मक परियोजनाओं की प्रगति की समीक्षा की। उनके  द्वारा की गई घोषणाओं को समयबद्ध पूरा किया जाना चाहिए और कार्य पूर्ण होने के स्तर पर पहुंच चुकी परियोजनाओं पर विशेष ध्यान केन्द्रित किया जाए ताकि यह कार्य शीघ्र पूरे हो सकें और इनकी लागत में भी वृद्धि न हो।

विकासात्मक परियोजनाओं का लाभ तभी क्षेत्र के लोगों को भी समय पर सुनिश्चित हो सकेगा। यह बात जय राम ठाकुर ने आज यहां मुख्यमंत्री द्वारा की गई घोषणाओं की प्रगति की समीक्षा के लिए आयोजित बैठक की अध्यक्षता करते हुए कही।

उन्होंने  कहा कि उनके द्वारा अपै्रल माह तक की गई घोषणाओं को इस वर्ष जून माह के अन्त तक धरातल पर लाया जाना चाहिए ताकि लोगों को इनके लाभ प्राप्त हो सकें। उन्होंने मुख्य विभागों को उनके द्वारा चलाई जा रही कल्याकारी योजनाओं से सम्बन्धित राज्य स्तरीय समारोह आयोजित करने और इनके आयोजन के लिए समुचित तैयारियां सुनिश्चित की जानी चाहिए। उन्होंने कहा कि विभिन्न योजनाओं के लाभार्थियों को भी इन आयोजनों में आमंत्रित किया जाना चाहिए।

जय राम ठाकुर ने  कहा कि राज्य के लोगों को विभिन्न योजनाओं के सम्बन्ध में जागरूक करने के लिए प्रदेशभर में इस तरह के 16 कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे तथा इस दौरान योजनाओं के लाभार्थियों को सम्मानित भी किया जाएगा।

मुख्यमंत्री ने कहा कि पूर्ण होने के स्तर तक पहुंच चुकी सभी परियोजनाओं को इस वर्ष जून तक अवश्य पूर्ण कर लें तथा इसके लिए विशेष अभियान चलाया जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि परियोजनाओं के कार्यों और घोषणाओं को कार्यान्वित करने में किसी भी स्तर पर कोताही सामने आने पर सख्त कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने कहा कि विकासात्मक परियोजनाओं के कार्यों की गुणवत्ता पर विशेष ध्यान दिया जाना चाहिए।

जय राम ठाकुर ने कहा कि विभिन्न विभागों के पास उपलब्ध अव्ययित (अनस्पेंट) निधि के उपयुक्त उपयोग के लिए प्रभावी तंत्र विकसित किया जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि इससे विकास के लिए पर्याप्त राशि सुनिश्चित होने के साथ-साथ विकासात्मक प्रक्रिया को भी गति मिलेगी।

उन्होंने कहा कि कोरोना महामारी ने विकास प्रक्रिया पर प्रतिकूल प्रभाव डाला है, इसके बावजूद उनके द्वारा की गई घोषणाओें को समयबद्ध पूर्ण करना सुनिश्चित किया जाना चाहिए।

उन्होंने कहा कि राज्य सरकार की महत्त्वकांक्षी परियोजनाओं पर विशेष बल दिया जाना चाहिए और प्रमुख भवनों, पुलों इत्यादि का कार्य शीघ्र पूर्ण किया जाना चाहिए ताकि इनका समुचित लाभ जनता तक पहुंच सके।

मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को सरकार तथा प्रदेश के लोगों की आशाओं के अनुरूप पूरे उत्साह के साथ कार्य करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि गत साढ़े चार वर्षों के दौरान राज्य सरकार द्वारा किए गए बेहतर कार्यों का श्रेय अधिकारियों को भी जाता है, जिन्होंने पूर्ण लगन व मेहनत के साथ कार्य किए।

मुख्य सचिव राम सुभग सिंह ने आश्वस्त किया कि मुख्यमंत्री द्वारा की गई सभी घोषणाओं को समयबद्ध पूरा करने के लिए प्रभावी कदम उठाए जाएंगे।

मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव सुभाशीष पण्डा ने विभिन्न विभागों द्वारा कार्यान्वित की जा रही कल्याणकारी योजनाओं पर आधारित कार्यक्रमों के आयोजन की जानकारी दी। उन्होंने कहा कि 31 दिसम्बर, 2021 तक मुख्यमंत्री द्वारा की गई 2123 घोषणाओं में से 1576 को क्रियान्वित किया जा चुका है और शेष का कार्य प्रगति पर है।

मुख्यमंत्री के विशेष सचिव तथा निदेशक सूचना एवं जनसम्पर्क हरबंस सिंह ब्रसकोन ने मुख्यमंत्री एवं अन्य अधिकारियों का स्वागत किया और बैठक की कार्यवाही का संचालन भी किया।

बैठक में अतिरिक्त मुख्य सचिव निशा सिंह, संजय गुप्ता, आर.डी. धीमान और प्रबोध सक्सेना, पुलिस महानिदेशक संजय कुंडू, प्रधान सचिव ओंकार शर्मा, भरत खेड़ा, आर.डी. नजीम, डॉ. रजनीश और देवेश कुमार, सचिव, विभागाध्यक्ष सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारी भी उपस्थित थे।