Breaking
डाक मतपत्र से वोट डाल सकेंगे आवश्यक सेवाओं में लगे मतदाता: डीसी         बैलेट पेपर एवं पोस्टल बैलेट पेपर प्रिंट करने के संबंध में बैठक आयोजित         उपायुक्त ने बीडीओ टूटू अनमोल को यूपीएससी परीक्षा पास करने पर दी बधाई         आदर्श आचार संहिता लागू होने के बाद 7.85 करोड़ रुपये की जब्ती         अग्निवीर की ऑनलाइन परीक्षा 22 अप्रैल से         अपनी खीज मिटाने में जुटे कांग्रेस नेता - बिंदल         दुर्गाष्टमी के अवसर पर राजभवन में फलाहार ग्रहण कार्यक्रम का आयोजन         बिजली रहेगी गुल         कांग्रेस पार्टी की नियत में खोट, 1500 महिलाओं को देना की इच्छा नहीं : त्रिलोक         भाजपा का संकल्प पत्र मोदी की गारंटी : बिंदल         बायोलचिम इंडिया प्राइवेट लिमिटेड ने किया किसान संगोष्ठी का सफल आयोजन         भाजपा संगठन महामंत्री सिद्धार्थन ने कार्यकर्ताओं को चुनावी टिप्स         कंगना के साथ भाजपा नेता जयराम ठाकुर ने की दलाई लामा से मुलाकात         मतदाता पहचान पत्र बनाने के लिए नए मतदाता 4 मई तक कर सकते हैं आवेदन         आधुनिक हिमाचल के निर्माण में स्व. वीरभद्र सिंह ने निभाई महत्वपूर्ण भूमिका : यशवंत छाजटा         केंद्रीय विद्यालय सलोह में रिक्तियों के लिए आवेदन 25 अप्रैल तक         आवश्यक सेवाओं से जुड़े अधिकारी व कर्मचारी पोस्टल बेल्ट सुविधा से कर सकेंगे मतदान         परस राम धीमान और समर्थकों ने मुख्यमंत्री सुखविंदर सिंह से की मुलाकात         राहुल गाँधी की न्याय गारंटियों का प्रदेशभर में प्रचार करेंगी एनएसयूआई         भाजपा ने 1500 रुपये रुकवाकर महिलाओं को किया अपमानित : कांग्रेस

नितिन गडकरी ने किया 7 राष्ट्रीय राजमार्ग परियोजनाओं का उद्घाटन

केंद्रीय सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने औरंगाबाद जिले के विकास को एक नया आयाम देने की दिशा में एक और कदम उठाया है। उन्होंने आज 5,569 करोड़ रुपये की 7 राष्ट्रीय राजमार्ग परियोजनाओं का उद्घाटन किया है। औरंगाबाद, महाराष्ट्र के प्रमुख औद्योगिक और शैक्षिक केंद्रों में से एक है।

इस अवसर पर उन्होंने कहा कि औरंगाबाद जिले में पर्यटन केंद्रों के विकास के लिए शहर में सड़क परिवहन महत्वपूर्ण है, जो कि राज्य का एक प्रमुख पर्यटन स्थल है।

मंत्री ने कहा कि इन राष्ट्रीय राजमार्ग परियोजनाओं के निर्माण से परिवहन के साथ-साथ औरंगाबाद जिले के विकास में तेजी आएगी। शहर में यातायात में सुधार से दुर्घटनाओं और पर्यावरण प्रदूषण की संख्या को कम करने में सहायता मिलेगी। उन्होंने आगे कहा कि जिले के ग्रामीण इलाकों से शहर तक आसानी से पहुंचा जा सकेगा।

गडकरी ने कहा कि जल संकट से जूझ रहे औरंगाबाद जिले में सड़क परियोजनाओं के माध्यम से जल संकट को दूर करने के प्रयास किए गए हैं। उन्होंने बताया कि सड़कों के निर्माण में बुलढाणा पैटर्न के अनुरूप कई तालाबों का निर्माण किया गया है और सड़कों के निर्माण में मिट्टी और पत्थरों का उपयोग किया गया है।

मंत्री ने आगे कहा कि इसके माध्यम से अडगांव-गंधेली, वाल्मी व नक्षत्रवाड़ी क्षेत्र, तीसगांव और साजापुर गांव क्षेत्रों में बनाए गए तालाबों से निकाली गई मिट्टी का दोहरा लाभ मिला है। गहरीकरण ने हर एक क्षेत्र में तालाब के निर्माण को संभव बनाया है। श्री

गडकरी ने कहा कि वह भूजल स्तर में बढ़ोतरी कर जल संकट को कम करने में सहायता करेंगे। उन्होंने आगे बताया कि जिले में ऐसे तालाबों के निर्माण के चलते अब भूजल की क्षमता बढ़कर 14 लाख क्यूबिक मीटर हो गई है।