Breaking
पदमश्री विद्यानंद सरैक होंगे सिरमौर के जिला आईकन         अतिरिक्त व्यय पर्यवेक्षकों के लिए कार्यशाला आयोजित         राष्ट्रीय विज्ञान दिवस पर विजेताओं को कुलपति डाक्टर डी.के.वत्स ने किया पुरस्कृत         विद्यार्थियों ने बनाए चंद्रयान व सौर मंडल के मॉडल         परोल स्कूल में ‘स्वीप’ के तहत आयोजित किया गया जागरुकता कार्यक्रम         बालासुंदरी चैत्र नवरात्र मेला 9 अप्रैल से 23 अप्रैल 2024 तक अयोजित होगा-एल.आर.वर्मा         मतदान फीसद बढ़ाने के लिए योजना पूर्वक करें प्रयास : अपूर्व देवगन         कांगड़ा जिला में मतदाता जारूकता अभियान पर करेंगे विशेष फोक्स: डीसी         मेधा प्रोत्साहन योजना के अभ्यर्थियों की अस्थाई सूची जारी         राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला खल्याणी में जागरूकता शिविर का हुआ आयोजन         कुल्लू में विद्यालय मृदा स्वास्थय कार्यक्रम पर जागरूकता शिविर का आयोजन         हिमतरु प्रकाशन समिति तथा भाषा एवं संस्कृति विभाग के संयुक्त तत्वावधान में आयोजित         निर्वाचन के दृष्टिगत गठित टीमों के लिए प्रशिक्षण कार्यशाला आयोजित         नवोदय विद्यालय में बताया मिट्टी के परीक्षण का महत्व         निर्वाचन प्रक्रिया के सुचारू निर्वहन में नोडल अधिकारियों की अहम भूमिका: डीसी         9 अप्रैल को आयोजित होंगी लोक अदालतें         31 मार्च 2024 तक निर्धारित लक्ष्य पूरा करें सभी विभाग-सुमित खिमटा         जीत से बड़ा मनोबल, इतिहास बदला : बिंदल         प्लांट एवं मशीनरी में 721.78 करोड़ रुपये का निवेश         राज्यपाल ने किया मातृवन्दना पत्रिका के विशेषांक का विमोचन

एयर मार्शल संजीव कपूर ने महानिदेशक का पदभार संभाला

एयर मार्शल संजीव कपूर ने 01 मई, 2022 को वायु सेना मुख्यालय, नई दिल्ली में भारतीय वायु सेना के महानिदेशक (निरीक्षण और सुरक्षा) [डीजी (आई एंड एस)] का पदभार संभाला।

एयर मार्शल राष्ट्रीय रक्षा अकादमी से स्नातक हैं और उन्हें दिसम्‍बर 1985 में ट्रांसपोर्ट पायलट के रूप में भारतीय वायु सेना की फ्लाइंग शाखा में कमीशन किया गया था। वह डिफेंस सर्विसेज स्टाफ कॉलेज (डीएसएससी) वेलिंगटन, कॉलेज ऑफ डिफेंस मैनेजमेंट और नेशनल डिफेंस कॉलेज के पूर्व छात्र हैं। वायु सेना अधिकारी, भारतीय वायु सेना की सूची में दर्ज विभिन्न विमानों पर उड़ान का 7700 घंटे से अधिक का अनुभव रखते हैं और एक योग्य उड़ान प्रशिक्षक हैं।

36 वर्षों से अधिक के सेवा करियर में, एयर मार्शल महत्वपूर्ण कमांड और स्टाफ पद संभाल चुके हैं। वह एक ऑपरेशनल ट्रांसपोर्ट स्क्वाड्रन और एक प्रमुख ट्रांसपोर्ट बेस की कमान भी संभाल चुके हैं। वह कॉलेज ऑफ डिफेंस मैनेजमेंट में संकाय प्रमुख और वरिष्‍ठ वायु सेना प्रशिक्षक, वायु सेना मुख्‍यालय में प्रधान निदेशक ऑपरेशंस (ट्रांसपोर्ट), असिस्टेंट चीफ ऑफ द एयर स्टाफ ऑपरेशंस (ट्रांसपोर्ट एंड हेलिकॉप्टर्स), असिस्टेंट चीफ ऑफ द एयर स्टाफ (कार्मिक एयरमैन और सिविलियन) तथा वायु सेना अकादमी में कमांडेंट के पद पर अपनी सेवा दे चुके हैं। वर्तमान नियुक्ति ग्रहण करने से पहले वे राष्ट्रीय रक्षा अकादमी, पुणे के कमांडेंट थे।

वायु सेना अधिकारी को वायु सेना पदक और अति विशिष्ट सेवा पदक से सम्‍मानित किया जा चुका है।