Breaking
3 लाख से कम आय है तो ले सकते हैं मुफ्त कानूनी मदद         शास्त्री एवं भाषा अध्यापकों की भर्ती के लिए काउंसलिंग 26 व 27 फरवरी को         सिरमौर जिला में 28 और 29 फ़रवरी को  लगेंगी राजस्व लोक अदालतें-सुमित खिमटा         दैनिक आहार में मोटे अनाज को अवश्य शामिल करें         पंचायती राज संस्थाओं में रिक्त पदों के लिये उप-चुनाव 25 फरवरी को         चुनाव प्रक्रिया के दौरान सभी नोडल अधिकारियों की भूमिका अग्रणी और महत्वपूर्ण - अनुपम कश्यप         तीन दिवसीय राज्य स्तरीय छेश्चू मेला संपन्न         तंबोला की 13 लाख में हुई नीलामी         राजभवन में अरूणाचल प्रदेश और मिज़ोरम का स्थापना दिवस आयोजित         बिना बजट के योजनाएं घोषित करने वाले हवा-हवाई सीएम बने सुक्खू : जयराम ठाकुर         मुख्यमंत्री ने सेना के जवान के निधन पर शोक व्यक्त किया         मुख्यमंत्री ने लोक निर्माण विभाग के 15 टिप्परों को रवाना किया         हमने शिमला संसदीय क्षेत्र में पिछले 5 साल में 15000 करोड़ रुपए से अधिक के काम करवाए : कश्यप         2004 से 2014 तक कांग्रेस के 10 साल भ्रष्टाचार : बिंदल         जोगिन्दर नगर के रैंस भलारा की महिलाएं तैयार कर रही हैं विभिन्न तरह का आचार         जिला स्तरीय लोकगीत प्रतियोगिता के लिए पंजीकरण 26 तक         कांगड़ा और चंबा के युवाओं ने लिया राष्ट्रीय युवा संसद में भाग         प्रतिभा सिंह ने नाचन विधानसभा क्षेत्र में किए विभिन्न विकासात्मक कार्यों के शिलान्यास         आईपीएस अधिकारी राकेश सिंह ने संभाला एसपी ऊना का पदभार         कुपोषण की रोकथाम के लिए मिशन मोड में कार्य किया जाएगा - जतिन लाल

अंबुजा सीमेंट फाउंडेशन त्रैमासिक बैठक का आयोजन

अंबुजा सीमेंट फाउंडेशन के सभागार में सामुदायिक सलाहकार समिति की त्रैमासिक बैठक का आयोजन अम्बुजा सीमेंट फाउंडेशन के द्वारा किया गया। बैठक की अध्यक्षता अम्बुजा सीमेंट इकाई प्रमुख मनोज श्रीवास्तव ने की

उन्होंने जल प्रबंधन,प्राकृतिक खेती,पशुपालन और सामुदायिक स्वास्थ्य परियोजना,कृषि और दुग्ध व्यवसाय तथा आंगनवाडी केंद्रों को एक प्रारुप की तरह विकसित करने का आह्वान किया और जनभागीदारी सुनिश्चित करने पर बल दिया।

कार्यक्रम प्रबंधक भूपेंद्र गांधी ने पंचायत प्रमुखों,सामाजिक प्रतिनिधियों,खण्ड विकास समिति,पशुपालन विभाग के प्रतिनिधि,किसान उत्पादक संघ,स्वयं सहायता समूह के प्रमुख और समिति के सदस्यों,स्वास्थ्य कार्यकर्ता,ग्राम पंचायत प्रधान कश्लोग,ग्याना,मांगू, दाड़लाघाट ने अपनी अपनी राय और भागीदारी को स्वास्थ्य सुविधाओं का उपयोग,आंगनबाड़ी केंद्रों के माध्यम से जनभागीदारी,सखियों के माध्यम से गृह मुलाकात,प्राकृतिक जल स्रोतों का संरक्षण और बचाव,पौधरोपण,पानी का संरक्षण, प्राकृतिक जल स्रोतों की पहचान और रखरखाव,महिला स्वमं सहायता समूहों के माध्यम से लोगों को जोड़ने की बात पर बल दिया।एक सर्वजन हिताय प्रस्ताव पर मुहर लगाई गई कि दाड़लाघाट क्षेत्र में सार्वजनिक पुस्तकालय की स्थापना हो ताकि विद्यालयों में पढ़ने वाले विद्यार्थी प्रतियोगी परीक्षाओं में ज्यादा से ज्यादा जुड़े और उनका बौद्धिक विकास हो सकें।

उपप्रधान हेमराज ठाकुर ने अपने विचार रखें। हेमराज,मीरा शर्मा,शांता शर्मा,ललित कुमार ने अपना अपना योगदान दिया।उच्च रक्तचाप और मधुमेह से ग्रसित व्यक्तियों को घर घर जाकर परामर्श देने और सुरक्षित रहने की   रूपरेखा भी प्रस्तुत की गई।

अजीत कुमार सिंह,योगेश शर्मा,हरिकृष्ण शर्मा,मदनलाल शर्मा,आरती सोनी, दिलीप ने अपने अपने विचार रखें।इस मौके पर अगली कार्ययोजना की रूपरेखा प्रस्तुत की गई।इस अवसर पर जिला परिषद सदस्य हीरा कौशल,पंचायत प्रधान रौडी रीना शर्मा,पंचायत प्रधान कोटलू नर्मदा शर्मा,उपप्रधान दाड़ला हेमराज ठाकुर,ललित गौतम,राजेश पूरी,नरेंद्र कुमार,बिमला देवी,वाटरशेड समिति पार्टी बड़ोग अनिल कुमार,केशव वशिष्ठ,रजनी बंसल,सुनीता देवी सहित अन्य उपस्थित रहे।